स्वच्छ पर्यावरण के महत्व पर निबंध | Importance of Clean Environment Essay in Hindi | Essay on Importance of Clean Environment in Hindi

By admin

Updated on:

 Essay on Importance of Clean Environment in Hindi  इस लेख में हमने स्वच्छ पर्यावरण के महत्व पर निबंध के बारे में जानकारी प्रदान की है। यहाँ पर दी गई जानकारी बच्चों से लेकर प्रतियोगी परीक्षाओं के तैयारी करने वाले छात्रों के लिए उपयोगी साबित होगी।

 स्वच्छ पर्यावरण के महत्व पर निबंध : कुदरत के साथ बदसलूकी करके इंसान खुद के साथ बदसलूकी कर रहा है और खुद को बर्बाद कर रहा है। ईश्वर ने प्रकृति की रचना की और उसका उद्देश्य प्रकृति के लिए मानवता की जरूरतों को पूरा करना रहा होगा और उसने सोचा होगा कि मनुष्य अपने उपकारक की देखभाल और प्रेम करेगा। प्रकृति ने ईश्वर की इच्छा का पालन किया लेकिन मनुष्य, उसकी सबसे बुद्धिमान रचना ने उसकी पूरी तरह से इस हद तक अवज्ञा की कि आज पूरा ब्रह्मांड विलुप्त होने के कगार पर है।

आप विभिन्न विषयों पर निबंध पढ़ सकते हैं।

 स्वच्छ पर्यावरण के महत्व पर लंबा निबंध (500 शब्द)

 मनुष्य प्रकृति के सौन्दर्य को भोगने के स्थान पर उसकी उदारता का लाभ उठाकर अपने लोभ और स्वार्थ में उसके संसाधनों को बेरहमी से लूट रहा है और खाली कर रहा है। नतीजतन, वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण और वातावरण का प्रदूषण मानव जाति को नष्ट करने की धमकी दे रहा है। इससे ओजोन परत का ह्रास हुआ है और ओजोन परत में छेद हो गया है जिससे पृथ्वी की पराबैंगनी विकिरण से जीवन की रक्षा करने की क्षमता कम हो गई है।

 प्रारंभ में वायु प्रदूषण की शुरुआत गर्मी, खाना पकाने और जंगली जानवरों से सुरक्षा की अंगूठी बनाने के लिए लकड़ी जलाने से हुई। वह प्रागैतिहासिक काल था जब आबादी कम थी और भूमि बिना हरियाली की कमी के बड़ी और विशाल थी।

 धीरे-धीरे जनसंख्या में वृद्धि हुई, सभ्यता का विकास हुआ और इन दो कारकों के साथ लकड़ी के विभिन्न उपयोग सामने आए। पेड़ काटे गए, मकान बनाए गए। पेड़ ही नहीं कई जंगल भी काटे गए। प्रकृति के संसाधन कई अन्य तरीकों से भी समाप्त हो गए थे। औद्योगीकरण और खनन ने भी प्रकृति के वरदानों को अपनी सीमा तक पहुँचाया।

पारिस्थितिक संतुलन में समुद्र और महासागर एक प्रमुख कारक हैं और वहां रहने वाले जीव इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। तेल के टैंकरों से लगातार रिसाव होता रहता है। यह न केवल पानी को प्रदूषित कर रहा है बल्कि मछलियों और अन्य समुद्री जानवरों को भी मार रहा है। भूमि आधारित जानवर बेहतर नहीं हैं। वे मनुष्य के असीमित लालच और क्रूरता से भी पीड़ित हैं और कई प्रजातियां विलुप्त हो रही हैं।

मानवजाति उसका अपना शत्रु बन गया है, और इस प्रकार हमारे ग्रह का सबसे बड़ा शत्रु बन गया है। विभिन्न उद्योगों से निकलने वाले धुएं और गैसों से वायु प्रदूषण होता है। इसके कारण अम्लीय वर्षा हुई है। यह कितना खतरनाक है, यह बताने की जरूरत नहीं है।

दुर्भाग्य से, लोग शुरुआत में लापरवाह बने रहे। जब ओजोन आवरण का ह्रास हुआ, तभी हमारी नींद खुली। बैठकों, समितियों के गठन और सम्मेलनों में कई साल बर्बाद हो गए। अब पंद्रह से बीस साल पहले, हमने गंभीरता से उन योजनाओं की योजना बनाना और उन्हें लागू करना शुरू कर दिया था। यहाँ उन प्रयासों में से कुछ हैं कि कैसे हमारे वातावरण को अधिक प्रदूषित होने से बचाया जा सकता है। उपयोग और उत्पन्न अधिकांश ऊर्जा कोयले, तेल प्राकृतिक गैस और यूरेनियम से उत्पन्न होती है।

स्वच्छ पर्यावरण के महत्व पर निबंध | Importance of Clean Environment Essay in Hindi | Essay on Importance of Clean Environment in Hindi

ये ऊर्जा स्रोत हवा और पानी को प्रदूषित करते हैं। इसके लिए सोलर सिस्टम को अपनाना सबसे अच्छा उपाय है। दूसरा तरीका रीसाइक्लिंग है। कचरे को पुनर्नवीनीकरण किया जा सकता है, और बचे हुए कचरे का उपयोग विद्युत शक्ति उत्पन्न करने के लिए किया जा सकता है। ग्रामीण क्षेत्रों में गोबर और कृषि अपशिष्ट ‘बायोगैस’ जैसी घरेलू ऊर्जा प्रदान कर सकते हैं।

इसके बाद दुनिया भर में समुद्र और महासागर के स्तर का नाजुक संतुलन है। हिमखंडों के पिघलने से समुद्र का स्तर बढ़ सकता है और हॉलैंड और मॉरीशस जैसे देश जलमग्न हो सकते हैं। इसके लिए भी पेड़ लगाना और वनों की सुरक्षा की जरूरत है।

स्वच्छ पर्यावरण के महत्व पर लघु निबंध (200 शब्द)

संतुलित जैव विविधता होनी चाहिए। अपने लालच और स्वार्थ के लिए हम कई जानवरों को मारते हैं। हरित शांति एक ऐसा संगठन है जिसके पास पर्यावरण की रक्षा के लिए एक समर्पित संवर्ग और एजेंडा है । हमें पूरी दुनिया में इस क्षमता के एनजीओ की जरूरत है।

एयर कंडीशनिंग और रेफ्रिजरेशन में इस्तेमाल होने वाले क्लोरोफ्लोरोकार्बन स्तर को कम करने की योजना बनाई गई है ताकि ओजोन की कमी को रोका जा सके। रियो डी जनेरियो, ब्राजील में हुई बैठक में दुनिया भर के 117 देशों ने भाग लिया, एक वास्तविक शुरुआत करने की कोशिश की है।

वाहन प्रदूषण की भी जांच की जा रही है। इन प्रयासों से, हम आशा करते हैं कि हमारा वातावरण फिर से स्वच्छ हो जाएगा और मानव जाति लंबे समय तक प्रकृति माँ की कृपा का आनंद लेती रहेगी।

इन्हें भी पढ़ें :-

विषय
पर्यावरण पर निबंध बाढ़ पर निबंध
पर्यावरण के मुद्दों पर निबंध सुनामी पर निबंध
पर्यावरण बचाओ पर निबंध जैव विविधता पर निबंध
पर्यावरण सरंक्षण पर निबंध जैव विविधता के नुक्सान पर निबंध
पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य पर  निबंध सूखे पर निबंध
पर्यावरण और विकास पर निबंध कचरा प्रबंधन पर निबंध
स्वच्छ पर्यावरण के महत्व पर निबंध पुनर्चक्रण पर निबंध
पेड़ों के महत्व पर निबंध ओजोन परत के क्षरण पर निबंध
प्लास्टिक को न कहें पर निबंध जैविक खेती पर निबंध
प्लास्टिक प्रतिबंध पर निबंध पृथ्वी बचाओ पर निबंध
प्लास्टिक एक वरदान या अभिशाप?   पर निबंध आपदा प्रबंधन पर निबंध
प्लास्टिक बैग पर निबंध उर्जा सरंक्षण पर निबंध
प्लास्टिक बैग पर प्रतिबंध लगना  चाहिए पर निबंध वृक्षारोपण पर निबंध
प्लास्टिक बैग और इसके हानिकारक  प्रभाव पर निबंध वनों की कटाई के प्रभावों पर निबंध
अम्ल वर्षा पर निबंध वृक्षारोपण के लाभ पर निबंध
महासागर डंपिंग पर निबंध पेड़ हमारे सबसे अछे मित्र हैं पर निबंध
महासागरीय अम्लीकरण पर निबंध जल के महत्व पर निबंध
जलवायु परिवर्तन पर निबंध बाघ सरंक्षण पर निबंध
कूड़ा करकट पर निबंध उर्जा के गैर पारंपरिक स्त्रोतों पर निबंध
हरित क्रांति पर निबंध नदी जोड़ने की परियोजना पर निबंध
पुनर्निर्माण पर निबंध जैव विविधिता के सरंक्षण पर निबंध

%e0%a4%b7%e0%a4%a3-%e0%a4%aa%e0%a4%b0/”>जैव विविधिता के सरंक्षण पर निबंध

admin

मैं इतिहास विषय की छात्रा रही हूँ I मुझे विभिन्न विषयों से जुड़ी जानकारी साझा करना बहुत पसंद हैI मैं इस मंच बतौर लेखिका कार्य कर रही हूँ I

Related Post

मिल्खा सिंह पर निबंध | Milkha Singh Essay in Hindi

मैरी कॉम पर निबंध | Essay on Mary Kom in Hindi | Mary Kom Essay in Hindi

नागरिक अधिकारों पर निबंध | Civil Rights Essay in Hindi

सामाजिक न्याय पर निबंध | Social Justice Essay in Hindi

Leave a Comment