सर्वनाम किसे कहते हैं | Pronoun in Hindi

By admin

Updated on:

 प्रिय, पाठकों इस पोस्ट में हमने सर्वनाम ( Pronoun in Hindi) के बारे में जानकारी प्रदान की है। हमने यहाँ सर्वनाम किसे कहते हैं (Pronoun meaning in Hindi) , सर्वनाम के भेद (Types of Pronoun in Hindi) और उनकी उदाहरण सहित व्याख्या की है। 

यहाँ सर्वनाम (Pronoun in Hindi) के बारे में जो जानकारी दी गई है वह इस प्रकार है –
  • सर्वनाम किसे कहते है (Pronoun in Hindi)
  • सर्वनाम की परिभाषा (Pronoun Definition in Hindi)
  • सर्वनाम भेद  (Types of Pronoun in Hindi)

 

सर्वनाम किसे कहते हैं || Pronoun in Hindi || Noun Meaning in Hindi

 

सर्वनाम किसे कहते है ( Pronoun in Hindi)

जो शब्द सभी नामों के स्थान पर प्रयुक्त होते हैं उन्हें सर्वनाम कहा जाता है । ये संत की पुनरुक्ति-दोष से बचने के लिए प्रयुक्त होते हैं।
उदाहरण के रूप में – ‘राम जब घर गया तो राम ने देखा कि मोहन वहाँ पर बैठा है’। इस वाक्य मे ‘राम‘ शब्द का प्रयोग दो बार हुआ है
है। यह पुनरुक्ति वाक्य के सौन्दर्य को नष्ट कर देती है ।
हम इस प्रकार लिख सकते हैं –
राम जब घर गया तो उसने देखा कि मोहन वहाँ पर बैठा है । अतः दूसरे ‘राम‘ शब्द के स्थान पर ‘उसने‘ लगाने से पुनरुक्ति दोष समाप्त हो गया है। 
अतः सर्वनाम की परिभाषा होगी :
परिभाषा – संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्दों को सर्वनाम कहते हैं ।
जैसे :- मैं, तुम, वह, यह, कौन, कोई आदि ।
 

सर्वनाम की आवश्यकता

 एक ही संज्ञा को बार-बार लिखने या बोलने में असुविधा होती है। साथ ही यदि हम एक शब्द का बार-बार प्रयोग करें तो वह लिखने या बोलने में बुरा भी लगता है। 
एक उदाहरण द्वारा हम इसे समझ सकते हैं :-
“राम ने कहा कि राम घर जाएगा।” राम के पिता ने राम को समझाया कि राम का घर जाना अब उचित नहीं है । छुट्टियाँ होने पर राम घर जा सकता है ।” 
ऊपर वे वाक्यों में राम संज्ञा शब्द का बार बार प्रयोग हुआ है।
 
यह प्रयोग बुरा भी लगता है और बोलने वाले तथा सुनने वाले के लिये असुविधा भी उत्पन्न करता है। यदि इन वाक्यों में सर्वनाम का यथास्थान प्रयोग किया जाए तो उसमें एक ही शब्द  का बार-बार प्रयोग नहीं होगा तथा साथ ही वाक्यों में सुन्दरता भी आ जाएगी । 
जैसे :- राम ने कहा कि वह घर जाएगा । उसके पिता ने उसे समझाया कि उसका घर जाना अब उचित नहीं है । छुट्टियाँ होने पर वह घर जा सकता है।
इस प्रकार हम देखते हैं कि वाक्य लिखने अथवा बोलने में सुन्दरता, सरलता, सुविधा तथा सुन्दरता लाने के लिये सर्वनामों का प्रयोग आवश्यक है ।
 

सर्वनाम के भेद (Types of Pronoun In Hindi)

 

सर्वनाम के छह भेद हैं :
1. पुरुषवाचक (Personal Pronoun) 
2. निश्चयवाचक (Demonstrative Pronoun)
3.अनिश्चयवाचक (Indefine Pronoun) 
4. सम्बन्धवाचक (Relative Pronoun)
5. प्रश्नवाचक (Interogative Pronoun) 
6. निजवाचक (Reflexive Pronoun)

 

1. पुरुषवाचक सर्वनाम (Personal Pronoun in Hindi)

बोलने वाले, सुनने वाले या किसी अन्य के लिए जिन सर्वनामों का प्रयोग होता है, वे पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते हैं।  जैसे :- मैं (हम), तुम(तू आप),  वह (यह, आप) आदि।

 

पुरुषवाचक सर्वनाम के तीन प्रकार हैं :
(क) उत्तम पुरुषवाचक (First Person) :- कहने वाले या लिखने वाले का ज्ञान कराने वाले सर्वनाम को उत्तम पुरुष कहते है ।
 जैसे :- मैं, मेरी, हम, हमारे ।
(ख) मध्यम पुरूषवाचक (Second Person) :- जिन सर्वनामों का प्रयोग बोलने वाले (वक्ता) या लिखने वाले, सुनने वाले या पढ़ने वाले के लिए होता है, उन्हें मध्यम पुरुषावाचक सर्वनाम कहते हैं।
 जैसे :- तू, आप, तुम।
(ग) अन्य पुरुषवाचक (Third Person) :- जिन सर्वनामों का प्रयोग बोलने वाला वक्ता किसी अन्य व्यक्ति के लिए करता है, उन्हें अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं ।
 जैसे :- यह, वह, वे, उसे, उसकी।

 

2. निश्चयवाचक सर्वनाम (Demonstrative Pronoun in Hindi)

 जिस सर्वनाम शब्द से किसी वस्तु अथवा व्यक्ति का निश्चय कराया जाए, उसे निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।
 जैसे :- यह, ये, वह, वे । यह मेरा घर है, वह उसका ।
 

3. अनिश्चयवाचक सर्वनाम (Indefine Pronoun in Hindi)

 जिस सर्वनाम शब्द से किसी व्यक्ति या वस्तु का निश्चय न हो, अनिश्चय वाचक सर्वनाम कहलाता है। 
जैसे :- कोई, कुछ । 
कोई सड़क पर जा रहा है । 
कुछ लड़के खेल रहे हैं, कुछ पढ़ रहे हैं।
 

4. सम्बन्धवाचक सर्वनाम (Relative  Pronoun in Hindi)

 जिस सर्वनाम शब्द से वाक्य में एक सर्वनाम का दूसरे सर्वनाम शब्द के साथ सम्बन्ध प्रकट होता हो, उसे सम्बन्धवाचक सर्वनाम कहते हैं। 
जैसे :- जो करता है, सो भरता है।
 

5. प्रश्नवाचक सर्वनाम (Interogative  Pronoun in Hindi)

 जिस सर्वनाम शब्द से प्रश्न का बोध होता है । उसे प्रश्नवाचक सर्वनाम कहते हैं।
जैसे :- क्या, कौन । 
वहाँ कौन खड़ा है ? 
क्या कह रहे हो ? 
कौन-सी पुस्तक चाहिए ?
 

6. निजवाचक सर्वनाम (Reflexive  Pronoun in Hindi)

 वक्ता या लेखक जिन सर्वनाम शब्दों से निजत्व का बोध कराता है और अपने लिए जिनका प्रयोग करता है, उन्हें निजवाचक सर्वनाम कहते हैं।
जैसे :-
आप अपने-आप, स्वयं, खुद, स्वतः, निज आदि । 
मैं अपना काम स्वयं करता हूँ।
वह स्वतः समझ जाएगा।
 
आशा करते हैं आपको सर्वनाम किसे कहते है (Pronoun in Hindi) पसंद आई होगी।

Related Post

दोहा किसे कहते हैं | Doha in Hindi

हरिगीतिका छन्द किसे कहते हैं | Harigitika Chhand in Hindi

गीतिका छन्द किसे कहते हैं | Gitika Chhand in Hindi

रोला छन्द किसे कहते हैं | Rola Chhand in Hindi

Leave a Comment